महाबली-1: तीन अश्वमेध यज्ञ कराने वाला वीर योद्धा और कुशल प्रशासक आदित्यसेन

आदित्यसेन माधवगुप्त की मृत्यु (650 ई.) के बाद मगध की राजगद्दी पर बैठा था। वह एक वीर योद्धा और कुशल प्रशासक था। उसने 675 ई. तक शासन किया। आदित्यसेन ने तीन अश्वमेध यज्ञ भी किये थे। उसने अपनी पुत्री का विवाह मौखरि वंश के भोगवर्द्धन से किया था। उसकी दौहित्री का विवाह नेपाल के नरेश ‘शिवदेव’ के साथ सम्पन्न हुआ था और उसके पुत्र जयदेव का विवाह कामरूप नरेश हर्षदेव की पुत्री राज्यमती से हुआ था। साम्राज्य विस्तार अपसढ़ और […]

Read more

अमित शाह वाले चाणक्य नहीं, असली चाणक्य की निजी जिंदगी के बारे में जानिए खास बातें

जब भी चुनाव में जीत हार या राजनीतिक उठापटक की बात होती है चाणक्य का नाम जरूर आता है. चाणक्य का अर्थशास्त्र दुनिया की सबसे मशहूर राजनीति की किताबों में से एक माना जाता है. पिछले कुछ साल से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को चाणक्य बताया जा रहा है. दरअसल, चाणक्य ने ही चंद्रगुप्त मौर्य को भारतीय इतिहास के सबसे सफल शासकों में से एक बनाया था. उन्होंने जीवन में जो अनुभव प्राप्त किए, जिन नियमों का निर्माण किया, उन्हीं […]

Read more

Travel Time: सर्वरायन क्षेत्र की पहाडियों में स्थित है खूबसूरत हिल स्‍टेशन यरकौड

बेहद खूबसूरत यरकौड yercaud तमिलनाडु का एक प्रमुख पर्वतिय पर्यटक स्थल है। यह पूर्वी घाट पर सर्वरायन पर्वत श्रृंखला पर स्थित है। अन्य हिल्स स्टेशनों से सस्ता यह स्थान धीरे-धीरे लोगों के बीच लोकप्रिय हो रहा है। प्रकृति को करीब से महसूस करने के इच्छुक लोगों के लिए यह एक उपयुक्त जगह है। इस शहर को ज्‍वेल ऑफ साउथ कहा जाता है एवं यहां पर अनेक प्राकृतिक स्रोत हैं। यरकौड का अर्थ होता है झीलों का जंगल। यहां घने जंगलों […]

Read more

Knowledge Book: संजीवनी बूटी की खोज में Valley of Flowers की ही घाटी में आए थे हनुमान जी

बेहद खूबूसरत फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान Valley of Flowers National Park जिसे आम तौर पर सिर्फ फूलों की घाटी कहा जाता है, भारत का एक राष्ट्रीय उद्यान है जो उत्तराखण्ड के हिमालयी क्षेत्र में स्थित है। यूनेस्को  ने नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान और फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान को सम्मिलित रूप से विश्व धरोहर स्थल घोषित किया है। यह उद्यान 87.50  किमी क्षेत्र में फैला हुआ है। Valley of Flowers National Park राष्ट्रीय उद्यान घोषित फूलों की घाटी को […]

Read more

कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा ने शक्ति परीक्षण के पहले ही दिया इस्तीफा, जानिए खास बातें

15 मई को आए नतीजों के बाद से अबतक कर्नाटक विधानसभा चुनाव में चल रहे नाटक में नया मोड़ आ गया है. कर्नाटक के नए नवेले सीएम येदियुरप्पा ने इस्तीफा दे दिया है. जाहिर है कि बीजेपी और येदियुरप्पा को पता था कि उनके पास जरूरी 112 विधायकों की संख्या नहीं है, महज 104 विधायक ही उनके पास हैं. इस्तीफा देने से पहले येदियुरप्पा ने कहा कि मेरी जिंदगी कर्नाटक के लोगों के लिए हैं और पार्टी 2019 के लोकसभा […]

Read more

नाथूराम गोडसे: वो कट्टरवादी हिंदू जिसने गांधी जी की हत्या कर दी थी, जानिए खास बातें

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे को देश एक कट्टरपंथी हत्यारे के तौर पर जानते हैं. हालांकि ऐसे लोग भी देश में हैं जो इस शख्स के लिए सहानुभूति भी रखते हैं. साल दो साल में कहीं न कहीं से देश में नाथूराम के मंदिर बनने की खबरें तो आ ही जाती हैं. इस शख्स का जन्म 19 मई 1910 को पुणे के बारामती में हुआ था. मराठी परिवार में जन्मे इस शख्स के बारे में जानते […]

Read more

रणभूमि-19:  अपनों के विश्वासघात के कारण सिख अंग्रेजों से हार गए सोबरांव का युद्ध

सोबरांव battle of sobraon का युद्ध 10 फ़रवरी, 1846 ई. को लड़ा गया था। यह ‘प्रथम सिक्ख युद्ध’ (1845-1846 ई.) के अंतर्गत लड़ा गया पाँचवाँ और निर्णायक युद्ध था।   अंग्रेज़ों के क़ब्ज़े वाले सतलुज नदी के पूर्वी तट पर सिक्खों ने मोर्चा संभाला हुआ था। उनके बच निकलने का एकमात्र रास्ता एक नौका पुल था। जमकर हुई गोलाबारी के बाद सिक्खों के मोर्चे तहस-नहस हो गए। लालसिंह और तेजा सिंह के विश्वासघात के कारण ही सिक्खों की पूर्णतया हार […]

Read more

Travel Time: उत्कृष्ट वनस्पतियों एवं वन्यजीवों से समृद्ध एवं प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर जोंगू

जोंगू समुद्र तल से लगभग 3000-20,000 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। यह गंगटोक से लगभग 70 किमी की दूरी पर स्थित है। यह स्थान प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर है लेकिन अभी तक प्रसिद्ध नहीं है। यह स्थान उत्कृष्ट वनस्पतियों एवं वन्यजीवों से समृद्ध है तथा पर्यटकों को सिक्किम पर्यटन का दिलचस्प अनुभव प्रदान करता है। जब जोंगू में हों तो यहाँ के लोगों के साथ रहे जोंगू की खासियत यहां के लोग हैं-लेपचा। जोंगू समुदाय के लोग समुदाय के […]

Read more

रणभूमि-18: ‘भारतीय इतिहास’  में कूटनीति से लड़ा गया प्रसिद्ध खेड़ा का युद्ध

खेड़ा का युद्ध ‘भारतीय इतिहास’ में लड़े गये प्रसिद्ध युद्धों में से एक है। यह युद्ध छत्रपति शिवाजी के पौत्र शाहू और ताराबाई की सेना के मध्य अक्टूबर, 1707 ई. में हुआ। इस युद्ध में शाहू की विजय हुई और उसने 22 जनवरी, 1708 ई. को सतारा में अपना राज्याभिषेक करवाया। शाहू के नेतृत्व में नवीन मराठा साम्राज्यवाद के प्रवर्तक पेशवा लोग थे, जो छत्रपति शाहू के पैतृक प्रधानमंत्री थे, जिनकी सहायता से शाहू मराठों का एकछत्र शासक बन गया। […]

Read more

Knowledge Book: दुनिया के कई देशों के ये 50 अजीबोगरीब कानून आपको हैरान कर देंगे

ये दुनिया जितनी बड़ी है उतनी है रोचक है. अलग-अलग देश अलग कानून और एक दूसरे से जुदा मान्यताएं इस दुनिया को और भी खास बनाता है. जानते हैं दुनिया के कुछ ऐसे कानूनों के बारे में जो ऊंट पटांग हैं. जिनको पढ़कर आपको हंसी भी आएगी और ये भी लगेगा कि मतलब ‘कुछ भी’: दुनिया के ये कानून जानें 1. फ्रांस में सुअर का नाम नेपोलियन रखना गैरकानूनी है. 2. स्‍वीडन में अपार्टमेंट में रहने वाला व्‍यक्ति रात 10 […]

Read more
1 2 3 135