किसी मंदिर की रक्षा करता है मगरमच्छ तो कहीं भालू हैं भक्त..देश के 8 अजब मंदिरों की गजब कहानी

गजब है भारत देश अपना और गजब है यहां की विविधता. भारत की कई चीजें इसे खास बनाती हैं, मंदिर भी उनमें से एक है. लेकिन देश के मंदिरों में से कुछ ऐसे मंदिर हैं जो बेहद ही खास हैं जितने रोचक और खास ये मंदिर उतनी हीं यहां कि मान्यता. आईए जानते हैं ऐसी ही 8 खास मंदिरों की कुछ विशेष बातें-
ind001

1.चूहों का डेरा, चूहों का पसंदीदा मंदिर, करणी माता का मंदिर

ये मंदिर बेहद ही खास है. राजस्थान के बीकानेर का करणी माता मंदिर चूहों के कारण दुनियाभर में मशहूर है. इस मंदिर में तकरीबन 20 हजार काले चूहें रहते हैं.चूहों को यहां बकायदा खाना भी दिया जाता है. मान्यता है कि इन चूहों पर आपका पैर नहीं पड़ना चाहिए वरना अपशकुन होगा और अगर ये चूहे आपको पैर के ऊपर से गुजर जाते हैं तो शुभ होगा.

2.मंदिर में काल भैरव बाबा को चढ़ाई जाती है शराब

मध्यप्रदेश के इस मंदिर में काल भैरव बाबा को चढ़ाई जाती हैं शराब. उज्जैन जिले के इस मंदिर में भैरव को प्रसाद के तौर पर मदिरा यानी शराब चढ़ाई जाती है. बताया जाता है कि बाबा भैरव के मुख के पास शराब का पात्र ले जाते ही कुछ देर में शराब अपने आप गायब हो जाती है.

3.फर्श पर सोने से ही गर्भवती हो जाती हैं महिलाएं गर्भवती
ये मंदिर हिमाचल प्रदेश के सिमसा गांव में हैं संतानदात्री मंदिर कहा जाता है. मान्यता है कि इस मंदिर के फर्श पर सोने से महिलाएं गर्भवती हो जाती है. बताया जाता है कि देवी मां खुद सपने में आकर संतान का आशीर्वाद दे जाती हैं. नवरात्र के महीने में दूर दूर से यहां हजारों महिलाएं आती हैं.
bullet_baba_shrine_india_
4.जोधपुर का बुलेट बाबा मंदिर
राजस्थान के जोधपुर में एक ऐसा मंदिर हैं जहां बुलेट मोटरसाइकिल और ओम बन्ना नाम के शख्स की पूजा होती है. ओम बन्ना की मौत सड़क हादसे में हुई थी मान्यता है कि तब से लेकर आज तक ओम बन्ना सड़क यात्राओं में फंसे आदमियों की हिफाजत करते हैं और उन्हें राह दिखाते हैं.

5.इस मंदिर में रात में रुके तो जिंदा वापस नहीं आ सकेंगे
मध्यप्रदेश के सतना जिले में मां शारदा का मंदिर है जिसे मैहर के नाम से जाना जाता है. मंदिर के बारें में एक बहुत डरावनी मान्यता है कि जो भी शख्स रात में मंदिर में रुकता है उसकी मौत हो जाती है. इसलिए ये मंदिर सुबह 2 बजे से 5 बजे तंक बंद रखा जाता है.
maxresdefault
6.भालूओं का परिवार भी है इस मंदिर का भक्त, पूजा करने आता है
छतीसगढ़ के महासमुंद का चंडी माता मंदिर पहले तंत्र साधनाओं के लिए जाना जाता था. लेकिन अब ये भक्त भालूओं की वजह से मशहूर हो गया है. यहां हर शाम आरती के वक्त भालुओं का एक झुंड आता है जो आरती के समय दूसरे लोगों के साथ हाथ जोड़कर खड़ा होता है और फिर प्रसाद लेकर वापस चला जाता है.

7.मंदिर का रक्षक है मगरमच्छ

केरल का अनंतपुर मंदिर झील पर बना हुआ है. बताया जाता है कि इस मंदिर की रखवाली बबिआ नाम का एक मगरमच्छ करता है. मान्यता है कि जैसी ही ये मगरमच्छ मरता है अगले दिन ही दूसरा मगर पानी में दिखने लगता है. यहां के महंत बताते हैं कि ये मगरमच्छ शाकाहारी है जिसे मंदिर का प्रसाद खिलाया जाता है. मंदिर के आसपास कुछ गलत होता है तो ये मगरमच्छ इसकी जानकारी देता है.

8.मंदिर के गर्म पानी के झील में नहाएं, बीमारियां दूर होंगी
हिमाचल प्रदेश के ततवानी मंदिर में प्राकृतिक गर्म पानी की झील है. मान्यता है कि यहां एक बार नहाने से सारे रोग दूर हो जाते हैं.

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *