कैसे नोटबंदी और ओला-उबर से धंधा चौपट हो गया, ये बता रहा है ऑटो ड्राइवर

Dhang Ki Baat

पीएम मोदी के कार्यकाल पर क्या सोचते हैं ऑटो ड्राइवर. ‘ऑटो में ढंग की बात’ सीरीज में We The Indian पीएम मोदी के कार्यकाल, अच्छे दिन, नोटबंदी पर ऑटो चालकों की राय जान रहा है. तीसरे एपिसोड में मुलाकात यूपी के धर्मेंद्र कुमार से हुई. जानिए उनकी राय. क्योंकि हर एक राय जरूरी है.

नोटबंदी से खास परेशान नजर आए धर्मेंद्र

Original

धर्मेंद्र कुमार नोटबंदी से खास परेशान नजर आए. उनका कहना है कि नोटबंदी के बाद कैशलेस को बहुत ज्यादा बढ़ावा मिला और लोग ओला-उबर का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने लगे, जिनसे उनका काम ठप्प हो गया. धर्मेंद्र का कहना है कि वो पिछले 14 साल से ये काम कर रहे हैं लेकिन इससे पहले ऐसे दिन कभी भी नहीं देखने पड़े थे. उन्हें अब ओला-उबर की नौकरी करनी पड़ रही है.

फोटो- गवर्नेंस नाउ

पुलिस प्रशासन का बुरा हाल

बीजेपी सरकार में धर्मेंद्र को लगता है कि पुलिस बेकाबू है. कभी भी ऑटो ड्राइवर्स के साथ बदसलूकी करने, मारपीट करने और गाली देने से पुलिस नहीं कतराती. धर्मेंद्र पूछते हैं कि क्या ऐसा कोई हेल्पलाइन नंबर है जिसपर वो पुलिस वालों की शिकायत कर सकें. धर्मेंद्र कहते हैं कि आए दिन उनका सामना ऐसे पुलिस वालों से होता है जो बेवजह गाली दे देते हैं या मारने की धमकी देते हैं.

Leave a Reply