Knowledge Book: जानिए आखिर क्या है CID और CBI में अंतर, काम और शक्ति, कैसे होती है भर्ती

FACTS

आपने सीआईडी और सीबीआई के बारे में सुना होगा और लोग इन्हें एक ही समझते हैं, लेकिन ऐसा नही हैं। सीआईडी और सीबीआई का काम लगभग एक जैसा होता है, लेकिन कई मायनों में यह अलग अलग होती है। आइए जानते हैं इन दोनों में क्या क्या अंतर होता है।

सीआईडी और सीबीआई दो अलग-अलग एजेंसियां है और इनके जांच का क्षेत्र अलग होता है। बता दें सीआईडी राज्य के अधीन जांच करती है और यह राज्य सरकार के आदेश पर काम करती है। वहीं सीबीआई को केंद्र सरकार, हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट से आदेश मिलता है।

सीआईडी एक प्रदेश में पुलिस का जांच और खुफिया विभाग होता है। इस विभाग को हत्या, दंगा, अपहरण, चोरी इत्यादि की जाँच के काम सौंपे जाते हैं। पुलिस कर्मचारियों को इसमें शामिल करने से पहले विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है।

वहीं सीबीआई केंद्र सरकार की एक एजेंसी है, जो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर होने वाले अपराधों जैसे हत्या, घोटालों और भ्रष्टाचार के मामलों और राष्ट्रीय हितों से संबंधित अपराधों की भारत सरकार की तरफ से जांच करती है।

सीआईडी में भर्ती- अगर किसी व्यक्ति को सीआईडी में भर्ती होना है तो उसे राज्य सरकार की ओर से आयोजित की जाने वाली पुलिस परीक्षा पास करने के बाद अपराध-विज्ञान की परीक्षा पास करनी होती है।

वहीं सीबीआई में एसएससी की ओर से आयोजित परीक्षा के द्वारा उम्मीदवारों का चयन किया जाता है।

सीआईडी की स्थापना ब्रिटिश सरकार द्वारा 1902 में की गई थी, जबकि सीबीआई की स्थापना 1941 में विशेष पुलिस प्रतिष्ठान के रूप में की गई थी।

Leave a Reply