लोकसभा के लिए एक साथ आए मायावती-अखिलेश, ये है गेस्ट हाउस कांड जिसके बाद अलग हो गए थे रास्ते

FACTS, PEOPLE

आखिरकार बड़े इंतजार के बाद यूपी में गठबंधन का ऐलान हो गया है. समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश, बहुजन समाज पार्टी की चीफ मायावती ने एक मंच पर एक साथ आकर गठबंधन का ऐलान किया. 2019 लोकसभा चुनाव में राज्य की कुल 80 सीटों में से एसपी और बीएसपी 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रहे हैं. 2 सीटें गठबंधन के दूसरे सहयोगियों के लिए छोड़ी गई हैं वहीं दो सीट कांग्रेस को ध्यान में रखते हुए छोड़ दिया गया है. गठबंधन से साफ है कि सिर्फ और सिर्फ बीजेपी को पीछे छोड़ने के लिए दोनों पार्टियां एक हो रही हैं.


मायावती ने किया गेस्ट हाउस कांड का जिक्र


इस दौरान मायावती ने गेस्ट हाउस कांड का भी जिक्र किया और कहा इससे बड़ा है कि देशहित इसलिए उस कांड को भुलाया जा सकता है. वहीं अखिलेश ने इशारों इशारों में यूपी से पीएम बनने बनाने की भी बात कह दी.

करीब 23 साल पहले गेस्ट हाउस कांड ने SP-BSP के बीच बहुत बड़ी दरार पैदा कर दी थी.

SP-BSP
फोटो- न्यू इंडियन एक्सप्रेस

1993 में SP-BSP के बीच हुआ था गठबंधन

ये दौर था अयोध्या मंदिर- बाबरी मस्जिद के विवाद के समय का. चारों तरफ ध्रुवीकरण की बयार थी. इसको देखते हुए एसपी-बीएसपी ने गठबंधन का फैसला लिया. चुनाव में गठबंधन की सरकार बनी, लेकिन ये गठबंधन ज्यादा दिन तक नहीं टिक सका और सिर्फ 1.5 साल के ही भीतर बीएसपी ने सरकार से समर्थन वापस ले लिया, मुलायम सिंह की सरकार गिर गई.

गेस्ट हाउस कांड और उसकी बुनियाद

बीएसपी के समर्थन वापस लेने से एसपी में गहरी नाराजगी थी. ये नाराजगी तब और बढ़ गई जब बीएसपी ने बीजेपी के साथ मिलकर 2 जून 1995 को सरकार बना ली. ये दिन अपने आप में एक इतिहास है और प्रदेश की राजनीति में इसे भुलाया नहीं जा सकता. बीएसपी के समर्थन वापस लेने के बाद जब समाजवादी पार्टी को लगा कि सरकार अब नहीं बचाई जा सकेगी, तो कार्यकर्ता आगबबूला हो गए.

आजतक की रिपोर्ट्स के मुताबिक, एसपी के नाराज कार्यकर्ता लखनऊ के स्टेट गेस्ट हाउस पहुंच गए जहां मायावती ठहरी हुईं थी. कहा जाता है कि मायावती के साथ बंद कमरे में कुछ गुंडों ने हाथापाई भी की लेकिन कुछ अफसरों की बदौलत मायावती को बचाया जा सका. ये भी कहा जाता है कि इसी के बाद से मायावती ने साड़ी को छोड़कर सिर्फ और सिर्फ सलवार सूट पहनने का फैसला किया था.

Azab Gazab

Leave a Reply