पीएम मोदी को है इन तीन बहनों से खतरा, छोटी वाली बहन ने बढ़ाई परेशानी

PEOPLE, THE NATION

पिछले विधानसभा नतीजों में बीजेपी के पिछड़ने के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजनीति के शिखर पर बने रहने के तमाम जतन कर रहे हैं। फिलहाल उनकी परेशानी का सबब बहनें हैं, जो पहले तो दो थीं लेकिन उसमें अब एक और बहन का इजाफा होने से उनकी टेंशन लोकसभा चुनावों के पहले बढ़ती जा रही है।

बंगाल से एक यूपी से दो

मोदी के पीएम बनने के बाद से तमाम नेता उनके खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। बीजेपी का कहना है, ये वो नेता हैं जिनकी भारत का प्रधानमंत्री बनने की हसरत अधूरी रह गई। इस मामले में पीएम से बंगाल वालों को तो नाराजगी थी ही अब यूपी में भी दो बहनों से उनके लिए खतरा पैदा हो गया है।

दीदी-बहिनजी और छोटी बहन

दरअसल पीएम मोदी को अब तक दीदी और बहिनजी से ही टक्कर मिल रही थी, लेकिन अब एक छोटी बहन ने भी उनको चुनौती देनी शुरू कर दी है। हम बात कर रहे हैं पश्चिम बंगाल की फूल-पत्ती लेकर मोर्चा खोलने वाली तृणमूल कांग्रेस की दीदी ममता बनर्जी के साथ ही हाथी और हाथ के साथ वालीं बसपा की बहिनजी मायावती और कांग्रेस की डेब्यूटन प्रियंका गांधी की।

पंजा, फूल-पत्ती और हाथी

मतलब बीजेपी के कमल को अब फूल-पत्ती और हाथी के साथ ही अब पंजे से भी खतरा पैदा हो गया है। खुद कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों फॉर्म में दिख रहे हैं।

राहुल ने तो छोटी बहन प्रियंका के साथ राजनीति में फ्रंट फुट पर आकर मोदी के खिलाफ मोर्चा खोलने का ऐलान तक कर डाला है। कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल विधानसभा चुनाव में मिली जीत के मंत्र को भुनाने अपनी बहन प्रियंका गांधी के साथ मंदिर-मस्जिद में माथा टेकते देखे जा रहे हैं।

पार्टी नेता बीमार!

बात यदि पीएम नरेंद्र मोदी की करें तो उनका महिला के साथ ही पुरुष मोर्चा इस मामले में बैक फुट पर नज़र आ रहा है। सुषमा स्वराज के साथ ही पर्रिकर और अरुण जेटली स्वास्थ्यगत दिक्कतों के शिकार हैं।

बहनों वाला ट्रंप कार्ड होगा फेल!

राजनीतिक विश्लेषकों का यह भी कहना है कि पीएम मोदी ने अभी अपना ट्रंप कार्ड नहीं खोला है। फिलहाल वो सेना सुरक्षा और करप्शन से जुड़े मुद्दों की मात्र चालें चल रहे हैं। भविष्य में कोई बड़ी कार्रवाई के दम पर वो विपक्ष के इस बहनों वाले ट्रंप कार्ड को भी बेकार कर दें तो इसमें कोई बड़ी बात नहीं।

Leave a Reply