गजब दर्शन: सैर कीजिए गुफाओं और मंदिरों के खूबसूरत शहर अरकी की

अरकी में कई मंदिर हैं, जो देश के सभी भागों से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। इनमें लुतुरु महादेव मंदिर, दुर्गा मंदिर और शाखनी महादेव मंदिर प्रमुख हैं। अरकी से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित लुतुरु महादेव मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित अरकी एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। इस जिले का यह छोटा शहर लोगों को इस क्षेत्र के सबसे आकर्षक पर्यटन स्थलों में से कुछ की यात्रा करने […]

Read more

गजब मंदिर:  जानिए क्यों उच्ची पिल्लयार मंदिर में विभीषण ने किया था श्रीगणेश पर वार

आज हम बात करेंगे एक बेहद ही खास मंदिर उच्ची पिल्लयार मंदिर  कि, जो बसा है तमिलनाडू में।   सुंदरता के साथ-साथ यहां की एक और खासियत इस मंदिर से जुड़ी कहानी भी है। मान्यता है इस मंदिर की कहानी रावण के भाई विभीषण से जुड़ी है। भगवान गणेश के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है उच्ची पिल्लयार मंदिर  जो की तमिलनाडू के तिरुचिरापल्ली (त्रिचि) नामक स्थान पर रॉक फोर्ट पहाड़ी की चोटी पर बसा बसा हुआ है। यह मंदिर लगभग […]

Read more

गजब दर्शन: सैर कीजिए मंदिरों से भरे धार्मिक औक खूबसूरत शहर भुवनेश्वर की

भारत के पूर्वी हिस्से में बसा भुवनेश्वर ओडिशा की राजधानी है। यह शहर महानदी के किनारे पर स्थित है और यहां कलिंगा के समय की कई भव्य इमारतें हैं। यह प्रचीन शहर अपने दामन में 3000 साल का समृद्ध इतिहास समेटे हुआ है। कहा जाता है कि एक समय भुवनेश्वर में 2000 से भी ज्यादा मंदिरें थीं। यही वजह है कि इसे भारत का मंदिरों का शहर भी कहा जाता है। भुवनेश्वर पर्यटन के तहत आप प्रचीन समय में ओडिशा […]

Read more

गजब फैक्ट्स: विश्व प्रसिद्ध काशी विश्वनाथ मंदिर से जुडी अनोखी और अदभुत बातें

  काशी को भगवान शिव की सबसे प्रिय नगरी कहा जाता है। इस बात का वर्णन कई पुराणों और ग्रंथों में भी किया गया हैं। काशी में ही भगवान शिव का प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग, काशी विश्वनाथ स्थित है। यहां वाम रूप में स्थापित बाबा विश्वनाथ शक्ति की देवी मां भगवती के साथ विराजते हैं। यह अद्भुत है। ऐसा दुनिया में कहीं और देखने को नहीं मिलता है। आइए जानते है काशी विश्वनाथ मंदिर से जुडी रोचक और अनसुनी बातें जिन्हें जान […]

Read more

गजब कथा: जानिए आखिर क्यों स्वयं श्रीराम ने ही तोड़ दिया था रामसेतु

रामसेतु भगवान राम ने वानरों की मदद से बनाया था, लेकिन ये कम ही लोग जानते हैं कि इस रामसेतु का स्वयं भगवान राम ने ही तोड़ दिया था। दरअसल वाल्मीकि रामायण के अनुसार लंका पर चढ़ाई करते समय भगवान श्रीराम के कहने पर वानरों और भालुओं ने रामसेतु का निर्माण किया था, ये बात हम सभी जानते हैं। लेकिन जब श्रीराम विभीषण से मिलने दोबारा लंका गए, तब उन्होंने रामसेतु का एक हिस्सा स्वयं ही तोड़ दिया था, ये […]

Read more

गजब इतिहास: जानिए भारत को बेहिसाब लूटने वाले बेहद ही क्रुर अहमद शाह अब्दाली के बारे में

अहमदशाह अब्दाली को अहमदशाह दुर्रानी भी कहते हैं। सन 1747 में नादिर शाह की मौत के बाद वह अफगानिस्तान का शासक बना। अपने पिता की तरह अब्दाली ने भी भारत पर सन् 1748 से 1758 तक कई बार आक्रमण किए और लूटपाट करके अपार धन संपत्ति को इकट्ठा किया। सन 1757 में जनवरी के माह में दिल्ली पर किया। उसने अब्दाली से बहुत ही शर्मनाक संधि की, जिसमें एक शर्त दिल्ली को लूटने की अनुमति देना भी था। अहमदशाह एक […]

Read more

गजब दर्शन: खूबसूरत लेकिन बेहद खतरनाक हैं रंग बदलते महादेव की ये यात्रा

बताया जाता है कि अमरनाथ की यात्रा सबसे मुश्किल होती है, लेकिन किन्नर महादेव की यात्रा भी कुछ कम खतरनाक और मुश्किल नहीं। इतना ही नहीं इस यात्रा के लिए तो यहां तक कहते हैं कि महादेव के इस धाम में जाने की इंसान एक बार ही हिम्मत कर पाता है। तिब्बत स्थित मानसरोवर कैलाश के बाद किन्नर कैलाश को ही दूसरा बड़ा कैलाश पर्वत माना जाता है। सावन का महीना शुरू होते ही हिमाचल की खतरनाक कही जाने वाली […]

Read more

गजब इतिहास: जानिए भारत में मुगल शासकों में सबसे क्रूर औरंगजेब के बारे में

औरंगज़ेब ने भारतीय उपमहाद्वीप पर आधी सदी से भी ज्यादा समय तक राज्य किया। वो अकबर के बाद सबसे ज्यादा समय तक शासन करने वाला मुग़ल शासक था। अपने जीवनकाल में उसने दक्षिणी भारत में मुग़ल साम्राज्य का विस्तार करने का भरसक प्रयास किया पर उसकी मृत्यु के पश्चात मुग़ल साम्राज्य सिकुड़ने लगा। भारत में मुगल शासकों में सबसे क्रूर औरंगजेब था। मुहीउद्दीन मुहम्मद औरंगजेब का जन्म  1618 ईस्वी में हुआ था। उसके पिता शाहजहां और माता का नाम मुमताज […]

Read more

गजब मंदिर: जानिए सबसे पुराने शक्तिपीठ के बारे में जहाँ होती हैं माता की योनि कि पूजा

कामाख्या शक्तिपीठ 52 शक्तिपीठों में से एक है तथा यह सबसे पुराना शक्तिपीठ है। कामाख्या मंदिर असम के गुवाहाटी रेलवे स्टेशन से 10 किलोमीटर दूर नीलांचल पहाड़ी पर स्थित है। यह मंदिर देवी कामाख्या को समर्पित है। जब सती के पिता दक्ष ने अपनी पुत्री सती और उस के पति शंकर को यज्ञ में अपमानित किया और शिव जी को अपशब्द  कहे तो सती ने दुःखी हो कर आत्म-दहन कर लिया। शंकर  ने सती कि  मॄत-देह को उठा कर संहारक […]

Read more

गजब दर्शन: सैर करें कीठम झील के किनारे स्थित खूबसूरत सुर सरोवर Bird Sanctuary की

खूबसूरत सुर सरोवर बर्ड सेंचुरी कीठम झील के किनारे स्थित है। आगरा से 20 किमी दूर स्थित सुर सरोवर बर्ड सेंचुरी का गठन उत्तरप्रदेश वन विभाग द्वारा 27 मार्च 1991 को हुआ था। आपको बता दें बेहद खूबसूरत और खास सुर सरोवर पक्षी अभयारण्य में स्थानीय व प्रवासी पक्षियों की 100 से ज्यादा प्रजातियां हैं। साथ ही 12 प्रजाति के स्तनपायी और 18 प्रजाति के सरीसृप का भी यह ठिकाना है। आइए ले चलते हैं आपको इसकी सैर पर.. सुर […]

Read more
1 2 3 100